Sunday, October 9, 2016











शारदीय नवरात्रि की ढेर सारी हार्दिक शुभ कामनायें मित्र आप समस्त परिवार और आत्मीय जनों को माँ जगदम्बे आप सभी का सदा कल्याण करें सदा सुपथ पर हम सब को ले कर चलें माँ उँगली पकड़ा कर सदा यही तो करती रही हैं । .भ्रमर ५


दे ऐसा आशीष मुझे माँ आँखों का तारा बन जाऊं